sad poem in hindi on love

sad poetry in hindi | थोड़ा वक़्त तो दो | sad poem in hindi on love

sad poetry in hindi

थोड़ा वक़्त तो दो

चले जाएगे तेरी जिंदगी से दूर
थोड़ा वक़्त तो दो
दिये है, जो तूने जख्म भरने को उनको
थोड़ा वक़्त तो दो
करनी है, वापिस तेरी सारी यादें तेरी सारी निशानिया
इकट्टठा करने को उनको
थोड़ा वक़्त तो दो
बसा लेगे एक नया घर एक नये शहर मे
ढूंढने को उसको थोड़ा वक़्त तो दो
हो जाएगे गुमनाम हमेशा के लिए
जिंदगी से तेरी
मिटाने को खुद को थोड़ा वक़्त तो दो
निकाल देगे दिल से भी तुझको
समझाने को इसको थोड़ा वक़्त तो दो
चले जाएगे तेरी जिंदगी से दूर
थोड़ा वक़्त तो दो

sad poetry in hindi
sad poem in hindi on love
sad poetry in hindi

Share With :