sad poetry in hindi

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | मैं उस पर अपनी सारी खुशियां लुटा आया

sad poetry in hindi on love

मैं उस पर अपनी सारी खुशियां लुटा आया

मैं उस पर अपनी सारी खुशियां लुटा आया
आते हुए उसके सारे गम उससे छीन लाया
वो जा रही थी जिस रास्ते पर छोड़कर मुझको
मैं उस रास्ते के भी सारे पत्थर हटा आया
बेच दिया वो घर जो हम दोनो के लिए बनाया था
जिस पेड़ पर लिखा था नाम हमारा मैं उसको भी जला आया
बता आया उस बेवफा की सच्चाई दुनिया को मैं
मैं उसके लिखे सारे खातों को कहीं दफना आया
उड़ा दिया वो कबूतरों का जोड़ा जो उसने दिया था
अपना दिया कंगन मैं उसके हाथ से उतार आया
कह दिया अलविदा उसके शहर को हमेशा के लिया मैने
मैं गांव अपने बूढ़े माता पिता के साथ रहने चला आया
मैं उस पर अपनी सारी खुशियां लुटा आया
आते हुए उसके सारे गम उससे छीन लाया

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi on love

Main Us Par Apanee Saaree Khushiyaan Luta Aaya
Aate Hue Usake Saare Gam Usase Chheen Laaya
Vo Ja Rahee Thee Jis Raaste Par Chhodakar Mujhako
Main Us Raaste Ke Bhee Saare Patthar Hata Aaya
Bech Diya Vo Ghar Jo Ham Dono Ke Lie Banaaya Tha
Jis Ped Par Likha Tha Naam Hamaara Main Usako Bhee Jala Aaya
Bata Aaya Us Bevapha Kee Sachchaee Duniya Ko Main
Main Usake Likhe Saare Khaaton Ko Kaheen Daphana Aaya
Uda Diya Vo Kabootaron Ka Joda Jo Usane Diya Tha
Apana Diya Kangan Main Usake Haath Se Utaar Aaya
Kah Diya Alavida Usake Shahar Ko Hamesha Ke Liya Maine
Main Gaanv Apane Boodhe Maata Pita Ke Saath Rahane Chala Aaya
Main Us Par Apanee Saaree Khushiyaan Luta Aaya
Aate Hue Usake Saare Gam Usase Chheen Laaya

Share With :