sad poetry in hindi

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | तन्हाई पल पल ढसती रही

sad poetry in hindi on love

तन्हाई पल पल ढसती रही

तन्हाई पल पल ढसती रही
मैं तेरे साथ को तरसती रही

दिल के सहरा में दफ़न यादें तेरी
आहे जिंदगी भर भरती रही

खुशी से कभी ना बनी मेरी
और गमों से खूब पटती रही

जो जलाया था तेरे इंतज़ार में
उस दिए के साथ मैं भी जलती रही

एक तस्वीर ही तो थी तेरी जाना
जो बाते मुझसे करती रही

तड़पती रही उम्रभर मैं फिर भी
मोहब्बत के रास्ते पर चलती रही

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
Share With :