sad poetry in hindi on love

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | बस एक बात आप मेरी मान लीजिए

sad poetry in hindi on love

बस एक बात आप मेरी मान लीजिए

बस एक बात आप मेरी मान लीजिए
अपनी गजलों में न मेरा नाम लीजिए

इश्क़ वो शय है जो बढ़ाए दर्द को
करने से पहले ये जान लीजिए

रातों को उठाना,अश्क बहाना,सदाये लगाना
इनका तो मजा बस आप लीजिए

करना है मुझपर तो एक एहसान कीजिए
जब भी कभी टकराए तो पहचान लीजिए

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
Share With :