sad poetry in hindi

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | अभी भी पहले वाली वो नजर बाकी है

sad poetry in hindi on love

अभी भी पहले वाली वो नजर बाकी है

अभी भी पहले वाली वो नजर बाकी है
उसमे तेरी मोहब्बत का असर बाकी है

भले पड़ गए हो छाले मेरे जिस्म और रूह पर
फिर भी तेरे दिल तक का सफर बाकी है

तड़प रहे है जिसे सुनने के लिए मेरे कान
जानां अभी तेरे आने की वो खबर बाकी है

मर न जाऊं कही देखे बिना तुझको मैं
मेरे अंदर सिर्फ और सिर्फ ये एक डर बाकी है

आईना देखूं तो दिखता है सिर्फ तू ही तू
तू जानां मुझमें इस कदर बाकी है

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
Share With :