sad poetry in hindi on love

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | मैं तुझे इस कदर लिखूँ

sad poetry in hindi on love

मैं तुझे इस कदर लिखूँ

मैं तुझे इस कदर लिखूँ
जैसे मोहोब्ब्त का कोई सफर लिखूँ
लिखूँ तेरे आँखों की गहराई मैं
मैं उनमे ठहरा एक समंदर लिखूँ
मर गया डूबकर जिसमे हर आशिक़
या इन आँखों को मैं वो भवर लिखूँ
जैसे लहरा रहा हो कोई झील के किनारे
तेरे बदन को मैं वो कमल लिखूँ
लिखूँ तेरे जिस्म की इक इक तह
उलझा उसमे मैं अपना मन लिखूँ
महका दे जो सारे आलम को
तेरी मोहोब्ब्त को मैं वो चमन लिखूँ
रहा अगर इसी तरहा करम तेरा
तो तेरे लिए ही मैं हर दम लिखूँ
लिखूँ आज गजल तुझपर कोई
या तुझपर कोई मैं नज़्म लिखूँ

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
Share With :