sad poetry in hindi

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | हम तेरे लौटने की दुआ आज भी यार करते है

sad poetry in hindi on love

हम तेरे लौटने की दुआ आज भी यार करते है

हम अपनी गज़लों में भी तुझसे इज़हार करते है
महफिलों में भी तेरा ज़िक्र बार बार करते है
तेरी लिए जीते है और तुझी पे जां कुर्बान करते है
हम तेरे लौटने की दुआ आज भी यार करते है

रूठी रूठी रहती है अब मेरी नज़्म मुझसे
खफ़ा खफ़ा रहती है अब मेरी कलम मुझसे
लिखते थे जो कभी तेरी तारीफ़ में अब वो ही
इबादत को तेरी हाथ उठते है
हम तुझसे मोहब्बत आज भी बेशुमार करते है
हम तेरे लौटने की दुआ आज भी यार करते है

अपने खाली पड़े दिल को तेरी यादों से भरते है
तेरी दिखाई मोहब्बत की राह पर हम आज भी चलते है
तू छोड़कर गया था जहां वहां खड़े आज भी इंतजार करते है
हम तेरे किये हर वादे पर आज भी ऐतबार करते है
हम तेरे लौटने की दुआ आज भी यार करते है

धूप बनकर बिखरते हो तुम मेरे आंगन में
बारिश बनकर मिलते हो मुझसे सावन में
आज भी करके तुझे याद हम आह भरते है
हम तुझे खोने से आज भी यार डरते है
हम तेरे लौटने की दुआ आज भी यार करते है

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
Share With :