sad poetry in hindi

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | कर लो गे अगर पल दो पल बात मेरे दोस्त

sad poetry in hindi on love

कर लो गे अगर पल दो पल बात मेरे दोस्त

कर लो गे अगर पल दो पल बात मेरे दोस्त
कट जाएगी सुकून से ये रात मेरे दोस्त

मैं इसलिए भी तेरी गली से नहीं गुजरता
कहीं हो न जाए तू बदनाम मेरे दोस्त

तू वो फूल है जिसने महकाया है मेरे जीवन को
मैं रखना चाहता हू तुझे सदा आबाद मेरे दोस्त

अगर थाम ले तू हाथ मेरा उम्रभर के लिए
तो हो जाए ये सफर बड़ा आसान मेरे दोस्त

मैने तो खुद को सौप दिया है तुझे पूरा का पूरा
तू जो भी देना चाहता है दे मुझे आकार मेरे दोस्त

कभी भूलकर भी दूर जाने की बात न करना
पाया है मैने तुझे बड़ी दुआओं के बाद मेरे दोस्त

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
Share With :