sad poetry in hindi

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | यूं कहने को तो

sad poetry in hindi on love

यूं कहने को तो

यूं कहने को तो वो मेरा एक पूरा जहान था
मगर उसके दिल में किसी और के लिए मकान था

लम्हा लम्हा टूटना पड़ा जिसको पाने के लिए मुझे
वो शख़्स किसी और पर ही मेहरबान था

किसके हुस्न का जादू मेरी मोहब्बत पर भारी था
किसकी तरफ लगा रहता हर वक्त उसका ध्यान था

जिसे मैं समझती थी की सिर्फ मेरा है
वो तो महफिल में सबकी जान था

अगर मैं जमीन थी तो वो आसमान था
एक सदी का फासला हमारे दरमियान था

जहां पर कभी गाये थे हमने गीत मोहब्बत के
आज वहां दर्द से भरी सदाओं का कब्रिस्तान था

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
Share With :