sad poetry in hindi

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | तेरे गम से इन दिनो दिल आबाद रहता है

sad poetry in hindi on love

तेरे गम से इन दिनो दिल आबाद रहता है

तेरे गम से इन दिनो दिल आबाद रहता है
तेरी यादो का ख्वाबों से कारोबार रहता है
गवाह हुआ करती थी जो हमारी मोहब्बत की
उन्ही गलियों में दीवाना तेरा दिन रात रहता है

तेरी बाते करना, तेरे लिए आहे भरना, और तुझपर मरना
बस आज कल यही एक मुझे काम रहता है
लोग कहते है गज़ले तो अच्छी लिखते हो तुम
पर वो कौन है जिसका उनमें नाम रहता है

हुआ करता था जो कभी शान दोस्तों की
आज वो ही उनके बीच गुमनाम रहता है
रहता था जो बेपरवाह, आजाद हर गम से
अब वो ही तेरे इश्क़ में बर्बाद रहता है

गवाह हुआ करती थी जो हमारी मोहब्बत की
उन्ही गलियों में दीवाना तेरा दिन रात रहता है

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
Share With :