sad poetry in hindi

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | मैं उसको भुला नही पा रहा हूं

sad poetry in hindi on love

मैं उसको भुला नही पा रहा हूं

मैं उसको भुला नही पा रहा हूं
जेहन से अपने मिटा नही पा रहा हूं
धँसता जा रहा हूं उसकी यादों की दलदल में
मैं खुद को बचा नही पा रहा हूं

जा चुकी है वो जिंदगी से मेरी
इतना भी दिल को समझा नही पा रहा हूं
रोज रात को बैठ जाते है ख़्वाब उसके सिरहाने मेरे
मैं उनको भी वहां से उठा नही पा रहा है

उसने कब्जा कर लिया है मेरे दिल, दिमाग पर इस कदर
की मैं चाहकर भी खुद को छुड़ा नही पा रहा हूं
वो जैसी भी थी, प्यार थी मेरा दोस्तो
इसलिए भी उसकी बेवफाई किसी को बता नही पा रहा हूं

मैं उसको भुला नही पा रहा हूं
जेहन से अपने मिटा नही पा रहा हूं

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
Share With :