sad poetry in hindi

sad poetry in hindi on love | sad poetry in hindi | आज मैने उस लड़की को देखा

sad poetry in hindi on love

आज मैने उस लड़की को देखा

आज मैने उस लड़की को देखा
जिसने मेरे दिल तक पहुंचने का रास्ता खोज निकाला
मैं एक झील सा कब से शांत एक ही जगह पर ठहरा हुआ था
उसने मुझे छूकर मानो मेरे अंदर एक लहर जिंदगी की पैदा कर दी हो
उसका मुस्कुराकर मेरी तरफ देखना जैसे मुरझाए फूल का खिल जाना
किसी नदी का अपने समंदर से मिल जाना
जिसे देखकर शायरी लिखने का दिल करे
जिसके सजदे मे मेरा सिर बार बार झुके
वो बोलती नही मानो नज्में पढ़ती हो
उसके हर एक लफ्ज़ से इबादत निकलती हो
जब वो चलती है तो सुरज उसके साथ चलता है
उसकी झुल्फ खुलते है रात ढलती है
आज मैने उस लड़की को देखा

sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi
sad poetry in hindi on love
sad poetry in hindi on love

Aaj Maine Us Ladakee Ko Dekha
Jisane Mere Dil Tak Pahunchane Ka Raasta Khoj Nikaala
Main Ek Jheel Sa Kab Se Shaant Ek Hee Jagah Par Thahara Hua Tha
Usane Mujhe Chhookar Maano Mere Andar Ek Lahar Jindagee Kee Paida Kar Dee Ho
Usaka Muskuraakar Meree Taraph Dekhana Jaise Murajhae Phool Ka Khil Jaana
Kisee Nadee Ka Apane Samandar Se Mil Jaana
Jise Dekhakar Shaayaree Likhane Ka Dil Kare
Jisake Sajade Me Mera Sir Baar Baar Jhuke
Vo Bolatee Nahee Maano Najmen Padhatee Ho
Usake Har Ek Laphz Se Ibaadat Nikalatee Ho
Jab Vo Chalatee Hai To Suraj Usake Saath Chalata Hai
Usakee Jhulph Khulate Hai Raat Dhalatee Hai
Aaj Maine Us Ladakee Ko Dekha

Share With :