hindi shayari new

images of sad shayari in hindi | hindi shayari new | मैं जानता हूं तेरी जुदाई जीने ना देगी मुझे

images of sad shayari in hindi

मैं जानता हूं तेरी जुदाई जीने ना देगी मुझे

मैं जानता हूं तेरी जुदाई जीने ना देगी मुझे
खुदा करे ये आग जुदाई की मुझे निगल जाए
या इसी आग में जलकर राख़ हो जाए मेरा जिस्म
या इसी आग मे एक दिन सोने बनकर निखर जाए

Main Jaanata Hoon Teree Judaee Jeene Na Degee Mujhe
Khuda Kare Ye Aag Judaee Kee Mujhe Nigal Jae
Ya Isee Aag Mein Jalakar Raakh Ho Jae Mera Jism
Ya Isee Aag Me Ek Din Sone Banakar Nikhar Jae

hindi shayari new
images of sad shayari in hindi

जो उसने दिए वो खत जलाता हुआ रुक जाता हूं
उसकी गली से कई बार आता हुआ रुक जाता हूं
अपना ही गीत गुनगुनाता हुआ रुक जाता हूं
एक तरफा प्यार का बोझ उठाता हुआ रुक जाता हूं

Jo Usane Die Vo Khat Jalaata Hua Ruk Jaata Hoon
Usakee Galee Se Kaee Baar Aata Hua Ruk Jaata Hoon
Apana Hee Geet Gunagunaata Hua Ruk Jaata Hoon
Ek Tarapha Pyaar Ka Bojh Uthaata Hua Ruk Jaata Hoon

hindi shayari new
images of sad shayari in hindi

निकल रही है खुशबू पूरे बदन से मेरे
पूरा मौहल्ला मेरे घर में बैठा है
पूछ रहे है सब आज कारण इसका
मैने कहा वो मेरे कमरे में बड़ी देर से बैठा है

Nikal Rahee Hai Khushaboo Poore Badan Se Mere
Poora Mauhalla Mere Ghar Mein Baitha Hai
Poochh Rahe Hai Sab Aaj Kaaran Isaka
Maine Kaha Vo Mere Kamare Mein Badee Der Se Baitha Hai

hindi shayari new
images of sad shayari in hindi

बैन लगा है तेरे घर से बाहर निकलने पर
ये अफ़वाह मुझे अखबारों से मिले
जो जो आए है तेरे हुस्न की चपेट में
अफसर कल जाकर उन बीमारों से मिले

Bain Laga Hai Tere Ghar Se Baahar Nikalane Par
Ye Afavaah Mujhe Akhabaaron Se Mile
Jo Jo Aae Hai Tere Husn Kee Chapet Mein
Aphasar Kal Jaakar Un Beemaaron Se Mile

hindi shayari new
images of sad shayari in hindi
Share With :